Rakesh Lal Ministries
“कि प्रभु का आत्मा मुझ पर है, इसलिये कि उस ने कंगालों को सुसमाचार सुनाने के लिये मेरा अभिषेक किया है, और मुझे इसलिये भेजा है, कि बन्धुओं को छुटकारे का और अन्धों को दृष्टि पाने का सुसमाचार प्रचार करूं और कुचले हुओं को छुड़ाऊं।” “और प्रभु के प्रसन्न रहने के वर्ष का प्रचार करूं।”

Latest News

क्या तू उस की कृपा, और सहनशीलता, और धीरजरूपी धन को तुच्छ जानता है?

और क्या यह नहीं समझता, कि परमेश्वर की कृपा तुझे मन फिराव को सिखाती है?” “पर अपनी कठोरता और हठीले मन के अनुसार उसके क्रोध के दिन के लिये, जिस में परमेश्वर का सच्चा न्याय प्रगट होगा, अपने निमित्त क्रोध कमा रहा है।” “वह हर एक को उसके कामों के अनुसार बदला देगा।

“तेरी बातों के खुलने से प्रकाश होता है; उस से भोले लोग समझ प्राप्त करते हैं।”

भजन 119:130 “मैं विश्वासघातियों को देखकर उदास हुआ, क्योंकि वे तेरे वचन को नहीं मानते।” भजन 119:158 “दुष्टों को उद्धार मिलना कठिन है, क्योंकि वे तेरी विधियों की सुधि नहीं रखते।” भजन 119:155 भाइयो और बहनों वचन जो खुद परमेश्वर है आज वर्तमान के मसीही लोगो के लिए ही है जो सीधे मन वाले लोग

मन नही फिराओगे तो नाश हो जाओगे

“यह सुन उस ने उन से उत्तर में यह कहा, क्या तुम समझते हो, कि ये गलीली, और सब गलीलियों से पापी थे कि उन पर ऐसी विपत्ति पड़ी?” “मैं तुम से कहता हूं, कि नहीं; परन्तु यदि तुम मन न फिराओगे तो तुम सब भी इसी रीति से नाश होगे।” “या क्या तुम समझते

“मैं तुम से सच सच कहता हूं, कि यदि कोई व्यक्ति मेरे वचन पर चलेगा, तो वह अनन्त काल तक मृत्यु को न देखेगा।”

और जो वचन पर नही चलेगा तो ? कितने यीशु के द्वारा कहे गए वचन को मानते है ? और वचन को अपने जीवन में उतारते है ? या कहीं आप यीशु के द्वारा मत्ती, मरकुस, लुका और युहन्ना में कही गयी बातों और आदेश को पत्रियो की बातो से क्रास तो नही

जिन्होंने पवित्र आत्मा का बपतिस्मा पा लिया है अन्य अन्य भाषा बोलते है

***___ भाइयो और बहनों __*** चाहे वो पास्टर, प्रचारक जो जो मीटिंग लेते हैं वचन सुनाते है प्रार्थना भी करते है लोग गिरते है चंगे भी होते हैं चाहे वो विश्वासी हों जो लगातार चर्च जाते प्रभु भोज लेते दसवां देते सेवकों की मदद भी करते मीटिंगों में जाते मीटिंग कराते उनसे एक प्रश्न हैs.

Who we are?

Your content goes here. Edit or remove this text inline or in the module Content settings. You can also style every aspect of this content in the module Design settings and even apply custom CSS to this text in the module Advanced settings.

Believes

Your content goes here. Edit or remove this text inline or in the module Content settings. You can also style every aspect of this content in the module Design settings and even apply custom CSS to this text in the module Advanced settings.

Our creed

Your content goes here. Edit or remove this text inline or in the module Content settings. You can also style every aspect of this content in the module Design settings and even apply custom CSS to this text in the module Advanced settings.

Love & Peace

Your content goes here. Edit or remove this text inline or in the module Content settings. You can also style every aspect of this content in the module Design settings and even apply custom CSS to this text in the module Advanced settings.