Recent Messages

“क्या तू उस की कृपा, और सहनशीलता, और धीरजरूपी धन को तुच्छ जानता है?

“क्या तू उस की कृपा, और सहनशीलता, और धीरजरूपी धन को तुच्छ जानता है?

“क्या तू उस की कृपा, और सहनशीलता, और धीरजरूपी धन को तुच्छ जानता है?

“क्या तू उस की कृपा, और सहनशीलता, और धीरजरूपी धन को तुच्छ जानता है?

All messages

by | Jun 4, 2018 |

“तेरी बातों के खुलने से प्रकाश होता है; उस से भोले लोग समझ प्राप्त करते हैं।”

All messages

by | Jun 4, 2018 |

Donate By Paytm

*****___मन नही फिराओगे तो नाश हो जाओगे __*****

by | Jun 4, 2018 |

**यदि आप इन वचनों को नही मानते तो धन्य नही हो **

by | Jun 4, 2018 |

“धन्य है वह जो इस भविष्यद्वाणी के वचन को पढ़ता है, और वे जो सुनते हैं और इस में लिखी हुई बातों को मानते हैं, क्योंकि समय निकट आया है।।”प्रकाशितवाक्य 1:3 यीशु का आगमन निकट है और अपनी देह को यानि कलीसिया यानि आपको और हमको तैयार रहने और कमियो को दूर करने के लिए